ऑस्ट्रेलिया के ग्राहम रीड बने इंडियन मेंस हॉकी टीम के कोच, 2020 तक संभालेंगे कार्यभार

Quaint Media
New Delhi: हॉकी इंडिया (Hockey India) और स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (Sports Authority of India) ने आखिरकार 4 महीने के बड़े अंतराल के बाद भारतीय पुरुष हॉकी टीम के लिए मुख्य कोच की तलाश कर ली है।

सोमवार को ऑस्ट्रेलिया के ग्राहम रीड (Graham Reid) को भारतीय पुरुष हॉकी टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी ग्राहम को ऑस्ट्रेलिया टीम के कोच भी रह चुके हैं। इन्होंने अपनी कोचिंग में ऑस्ट्रेलिया ने 2012 में लगातार 5वीं बार चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया था।

गौरतलब है कि भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कोच हरेंद्र सिंह को बीते साल दिसंबर में बर्खास्त कर दिया गया था, जिसके बाद टीम को 4 महीने तक नए कोच का इंतजार करना पड़ा।

हॉकी इंडिया ने ग्राहम रीड (Graham Reid) के साथ दिसंबर 2020 तक के लिए करार किया है, हालांकि प्रदर्शन के आधार पर इसे बढ़ाया जा सकता है। बतौर भारतीय कोच, अगले महीने होने वाले टीम इंडिया का ऑस्ट्रेलिया दौरा ग्राहम के सामने पहली चुनौती है। वहीं, जून में FIH मेंस सीरीज का फाइनल भुवनेश्वर में खेला जाएगा।

भारतीय पुरुष हॉकी टीम का मुख्य कोच नियुक्त किए जाने पर ग्राहम ने कहा, ‘यह मेरे लिए सम्मान की बात है कि मैं भारतीय पुरुष हॉकी टीम का कोच बना। हॉकी के मामले में कोई ऐसा देश नही जो भारत से तुलना कर सके। भारत, दुनिया में सबसे रोमांचक और अटैकिंग हॉकी खेलने वाला देश है और मुझे भी ऐसी ही तेज और अटैकिंग हॉकी पसंद है।’

अपने करियर में 130 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके रीड की कोचिंग में ऑस्ट्रेलिया दो बार चैंपियंस ट्रॉफी जीत चुकी है। इसके अलावा 2014 में कॉमनवेल्थ वेल्थ, 2015 में वर्ल्ड लीग जीत भी ऑस्ट्रेलिया टीम ने इन्हीं के मार्गदर्शन में हासिल की थी। वहीं, 2016 में हुए रियो ओलिंपिक कोई ऑस्ट्रेलिया टीम कोई पदक हासिल नहीं कर सकी थी, इसलिए रीड ने कोच पद से इस्तीफा दे दिया था। हालाकि 2017 में वह अपने पुराने क्लब एम्सटर्डम के मुख्य कोच और नीदरलैंड टीम के सहायक कोच बने। लेकिन उन्होंने हाल ही एम्सटर्डम कोच का पद छोड़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *