Ind vs Aus: टीम इंडिया के लिए करो या मरो है फाइनल वनडे, ये 3 चुनौतियां डुबा सकती हैं नैया

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India
New Delhi: जहां टीम इंडिया लगातार 2 वनडे जीतने के बाद सीरीज पर कब्जा जमाने का सोच रही थी, लेकिन अब अब करो या मरो जैसे हालात हो गए। पिछले 2 मैचों में मेहमान टीम ऑस्ट्रेलिया भारतीय टीम (India vs Australia Odi) पर हावी दिखाई दी।

मोहाली वनडे में 358 रन का स्कोर बनाने के बावजूद एश्टन टर्नर की आतिशी पारी ने विशाल लक्ष्य को आसान बना दिया और भारत के मुंह से जीत छीन ली। इस दौरान भारतीय टीम की कुछ कमजोरियां भी सामने आई हैं। भारत को कल दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर फाइनल वनडे से पहले कमियों को ठीक करना होगा वर्ना मुश्किल हो जाएगी।

विराट कोहली पर निर्भर टीम इंडिया

अगर हम टीम इंडिया की बल्लेबाजी की बात करें तो ऐसा नजर आ रहा है कि पूरी टीम कप्तान विराट कोहली पर निर्भर होती जा रही है। मोहाली वनडे को छोड़ दें तो सलामी जोड़ी रोहित शर्मा और शिखर धवन अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रही है। पहले तीन मैच में भारत की ओपनिंग जोड़ी ने 4, 0, 11 रन बनाए।

कोहली के अलावा कोई और बल्लेबाज मिडिल ऑर्डर में कोई खास कमाल नहीं दिखा पाया। अंबाती रायडू रन बनाने में नाकाम रहे, जिसकी वजह से चौथे मैच में उनको बाहर किया गया। केदार जाधव, विजय शंकर को बल्लेबाजी का मौका दिया लेकिन दोनों ही बड़े स्कोर पर नहीं पहुंच पाए।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India

कुलदीप और बुमराह रन रोकने में नाकाम

बात अगर गेंदबाजी की करें तो तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह लय में हैं लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस के सामने बुमराह का कद थोड़ा छोटा नजर आ रहा है। बुमराह ने अबतक 4 मैच में 7 विकेट और 205 रन लुटाए। वहीं कमिंस ने 12 विकेट अपने नाम करते हुए 182 रन खर्च किए हैं। कुलदीप यादव ने विकेट तो निकाले लेकिन उन्हें रनों पर लगाम लगानी होगी। 4 मैचों में यादव ने 9 विकेट हासिल किए तो 228 रन भी लुटाए हैं।

ख्वाजा और हैंड्सकॉम्ब पर लगाना होगा ब्रेक

ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा और पीटर हैंड्सकॉम्ब इस समय शानदार फॉर्म में हैं। ख्वाजा ने इस सीरीज में 283 और हैंड्सकॉम्ब ने 184 रन बनाए हैं। दोनों ही बल्लेबाज 1-1 शतक भी जड़ चुके हैं और कमाल की बात यह रही दोनों का ही यह वनडे में पहला शतक रहा। यह शतकीय पारी भारतीय टीम की जीत में रोड़ा बनी, जिसका तोड़ निकाले बिना भारतीय टीम की जीत मुश्किल नजर आ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *