डेब्यू के 5 साल बाद सचिन को मिला था ओपनिंग करने का मौका…और बन गए क्रिकेट के भगवान

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India
New Delhi: ‘क्रिकेट के भगवान’ नाम से मशहूर टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) की जिंदगी में आज का दिन यानी 27 मार्च बहुत खास है। साल 1989 में डेब्यू करने वाले सचिन ने 5 साल बाद 1994 में आज ही के दिन पहली बार मैच में ओपनिंग की थी।
बतौर सलामी बल्लेबाज सचिन ने खेली तूफानी पारी

25 साल पहले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने न्यूजीलैंड दौरे के दूसरे मैच में जडेजा के साथ ओपनिंग करते हुए महज 49 गेंदों में 82 रनों की पारी खेलकर भारत की जीत सुनिश्चित की। उन्होंने इस पारी में 15 चौके और 2 छक्के भी लगाए। इसी मैच में उन्होंने जडेजा के साथ पहले विकेट के लिए 61 रनों की साझेदारी की, जिसके बाद जडेजा 18 रन पर आउट हो गए। इस मैच में 143 रनों का पीछा करते हुए भारत ने 23.2 ओवरों में ही 7 विकेट से जीत हासिल की थी।

इस विस्फोटक पारी की वजह से सचिन को सीरीज के बाकी बचे दो मैचों के लिए भी ओपनिंग करने का मौका मिला। उन्होंने शानदार प्रदर्शन कायम रखते हुए दोनों मैचों में क्रमशः 63 और 40 रनों की पारी खेली। लेकिन यह सीरीज 2-2 के ड्रा पर छूटी।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar, Live India

ऐसे मिला सचिन को ओपनिंग करने का मौका

दरअसल न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के दूसरे मैच से पहले नियमित ओपनर नवजोत सिंह सिद्धू को गर्दन में अकड़न के कारण अनफिट करार दे दिया गया था। साथ ही पहला मैच हारने के बाद कप्तान अजहरूदिन की चिंता बढ़ी हुई थी। ऐसे मुश्किल समय में तत्कालिक भारतीय कप्तान अजहरूदिन ने निचले क्रम में खेलने वाले सचिन तेंदुलकर पर भरोसा दिखाया और ओपनिंग करने के लिए भेजा।

इसके बाद इतिहास बना गवाह

इसके बाद सचिन तेंदुलकर ने कभी मुड़कर नहीं देखा और बन गए क्रिकेट के भगवान। तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट में 48.29 की औसत से 344 मैचों में 15310 रन बनाए। उनका रिकॉर्ड निचले क्रम के मुकाबले ओपनिंग में बेहद शानदार रहा और कई यादगार पारियां खेलकर टीम को जीत दिलाई। उन्हें सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग के साथ सबसे ज्यादा पसंद किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *