108 बार टेस्ट क्रिकेट साथ-साथ खेले हैं ऑस्ट्रेलिया के जुड़वां भाई, 19 साल में लगाया रनों का ढेर

New Delhi: क्रिकेट में वैसे तो कई सगे भाइयों ने एक ही टीम की ओर से खेलते हुए ढेरों रन और रिकॉर्ड बनाए लेकिन जब जुड़वा भाइयों की बात आती है तो वहां ऑस्‍ट्रेलिया के वॉ ब्रदर्श (Mark Waugh & Steve Waugh) को कैसे भुलाया जा सकता है जिन्‍होंने खूब धूम मचाई। ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान स्‍टीव और मार्क वॉ जुड़वा भाई हैं। दोनों ने साथ खेलते हुए कई रिकॉर्ड अपने नाम किए जो वर्षों तक याद रखा जाएगा।

जनवरी 1991 में मार्क को स्टीव की जगह टेस्ट टीम में चुना गया। उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई टीम में चुने जाने का जश्न शतक जमाकर मनाया। एशेज सीरीज के दौरान एडिलेड में मार्क ने 138 रनों की शानदार पारी की बदौलत टीम में अपनी जगह पक्की की। तीन महीने बाद ही स्टीव की भी टेस्ट टीम में वापसी हुई और इसके साथ ही साल 1991 में 5 अप्रैल यानी आज का दिन इतिहास बन गया, जब टेस्ट क्रिकेट में पहली बार किसी जुड़वां (Mark Waugh & Steve Waugh) को साथ खेलते देखा गया।

दोनों ने ऑस्‍ट्रेलिया की ओर से खेलते हुए इंटरनेशनल क्रिकेट में कुल 35,025 रन बनाए। स्‍टीव और मार्क वॉ पहले ऐसे जुड़वा भाई हैं जिन्‍हें पुरुष टेस्‍ट टीम की ओर से एकसाथ खेलने का मौका मिला। दोनों कुल 108 टेस्‍ट मैचों में साथ खेले।

स्‍टीव वॉ ने 168 टेस्‍ट मैचों में कुल 10,927 रन बनाए जबकि मार्क वॉ ने 128 टेस्‍ट मैचों में 8,029 रन बटोरे। स्‍टीव के नाम 32 और मार्क के नाम 20 टेस्‍ट शतक दर्ज है।

दोनों भाई बेहतरीन खिलाड़ी रहे हैं। दोनों ने न सिर्फ टेस्‍ट बल्कि वनडे में भी खूब कमाल दिखाए। हालांकि जब रिटायरमेंट की बात आई, तो मार्क का करियर स्‍टीव से दो साल पहले ही खत्‍म हो गया था। स्‍टीव ने जहां 2004 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा वहीं मार्क ने अपना आखिरी मैच 2002 में खेला था।

Quaint Media

वॉ ब्रदर्स से जुड़े मजेदार फैक्ट्स

1: स्‍टीव और मार्क जुड़वा भाई हैं और इनका जन्‍म 2 जून 1965 को हुआ था। लेकिन आपको यहां बता दें कि मॉर्क को जूनियर वॉ भी कहा जाता है क्‍योंकि वह स्‍टीव से 4 मिनट बाद पैदा हुए थे।

2: क्रिकेट जगत में कई जुड़वा भाईयों को खेलते देखा गया है। लेकिन टेस्‍ट क्रिकेट खेलने वाले पहले जुड़वा भाई वॉ ब्रदर्स ही थे।

3: 1990-91 में महान बल्‍लेबाज स्‍टीव वॉ को एशेज सीरीज से पहले टीम से बाहर कर दिया गया था। लेकिन सबसे मजेदार बात यह है कि उनकी जगह जिस खिलाड़ी को टीम में शामिल किया गया वो और कोई नहीं उनके जुड़वा भाई मॉर्क वॉ ही थे।

4: आपको यह जानकर हैरत में पड़ जाएंगे कि स्‍टीव और मॉर्क दोनों ने अपना आखिरी वनडे, फर्स्‍ट-क्‍लॉस क्रिकेट और लिस्‍ट-ए क्रिकेट साथ-साथ खेला था। यानी कि करियर के अंतिम मैचों में दोनों भाई एक साथ खेलकर क्रिकेट को अलविदा कह गए।

5: अपने डेब्‍यू मैच में दोनों वॉ ब्रदर्स जीरो पर आउट हो गए थे।

6: फर्स्‍ट क्‍लॉस क्रिकेट में वॉ ब्रदर्स के नाम 5वें विकेट के लिए सबसे लंबी पार्टनरशिप का रिकॉर्ड दर्ज है। इन दोनों भाईयों ने 404 मिनट खेलकर 464 रन की साझेदारी की थी।

7: द टाइम्‍स के क्रिकेट कॉलमनिस्‍ट साइमन बार्न्‍स ने 2003 में स्‍टीव वॉ को ‘कोल्‍ड ब्‍लडेड साइंटिफिक लीडर’ की संज्ञा दी थी।

8: विश्‍व कप क्रिकेट में चार शतक लगाने वाले मार्क वॉ अकेले बल्‍लेबाज हैं।

9: सर्वाधिक टेस्‍ट मैच व वनडे साथ खेलने वाली जुड़वा भाईयों कीी जोड़ी़ का रिकॉर्ड स्‍टीव वॉ व मार्क वॉ के नाम है।

10: लगातार 16 टेस्‍ट मैचों में जीत का रिकॉर्ड बनाने वाली आस्‍ट्रेलिया टीम के कप्‍तान 16 में से 15 मैचों में स्‍टीव वॉ थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *